जीएसटी विधेयक लोक सभा में पास

GST Bill 2015जीएसटी विधेयक लोकसभा में बुधवार को पास हो गया।  जीएसटी विधेयक में मोदी सरकार को वोटिंग प्रक्रिया में तृणमूल कांग्रेस का भी समर्थन मिला। बिल के पक्ष में 352 वोट और विरोध में 37 वोट पड़े। दस सदस्य वोटिंग प्रक्रिया में मौजूद नहीं रहे। वोटिंग में खास बात रही कि बीजेपी के ही 12 सांसदों ने इस बिल के विरोध में वोटिंग की। हालांकि कांग्रेस, बीजेडी समेत विपक्षी पार्टियों ने इस बिल का विरोध किया। विपक्ष विधेयक को स्थायी समिति के पास भेजने की मांग कर रहा था। बता दें कि गत 26 अप्रैल को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में जीएसटी विधेयक पेश किया था। उस वक्त सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने सदन से वॉकआउट कर दिया था। लोकसभा में जीएसटी बिल पास होने के बाद इसे राज्यसभा में रखा जाएगा। लोकसभा का मौजूदा सत्र 8 और राज्यसभा का सत्र 13 मई को समाप्त होगा। हालांकि जीएसटी संशोधन बिल के राज्यसभा में अटकने की आशंका है। वोटिंग के पहले जीएसटी संशोधन बिल को स्टैंडिंग कमेटी के पास भेजने को लेकर कांग्रेस ने लोकसभा से वॉकआउट किया था। वहीं जीएसटी संशोधन बिल पर चर्चा के दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में कहा कि जीएसटी लागू होने से लंबी अवधि में कीमतें कम होंगे और आर्थिक ग्रोथ को रफ्तार मिलेगी। अप्रत्यक्ष करों के क्षेत्र की नई व्यवस्था जीएसटी को एक अप्रैल 2016 से लागू करने का प्रस्ताव है। जीएसटी में केन्द्र और राज्यों में लगने वाले सभी अप्रत्यक्ष करों को समाहित कर दिया जायेगा। इसमें केन्द्र के उत्पाद शुल्क, सेवाकर और राज्यों में लगने वाले मूल्य वर्धित कर (वैट) प्रवेश कर, चुंगी तथा अन्य राज्य स्तरीय कर समाहित होंगे।

Filed in: Year 2015, प्रमुख योजनाएँ, भारत, मई 2015, विश्व, व्यापार, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख Tags: , , , , ,

You might like:

मनु भाकर ने ISSF विश्व कप में स्वर्ण जीता मनु भाकर ने ISSF विश्व कप में स्वर्ण जीता
महिंदा राजपक्षे होंगे श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे होंगे श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री
अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी सहित 3 लोगों को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी सहित 3 लोगों को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार
चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार 2019, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार 2019, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.