पट्टचित्र एवं ओडिशा का रघुराजपुर

Pattachitra Paintingपट्टचित्र ओड़िशा की पारम्परिक चित्रकला है। इन चित्रों में हिन्दू देवीदेवताओं को दर्शाया जाता है। ‘पट्ट’ का अर्थ ‘कपड़ा’ होता है | रघुराजपुर, कला प्रेमियों का स्‍वप्‍न स्‍थान। पूरा गांव जैसे कला और दस्‍तकारी का खुला संग्रहालय हो। इस गांव में 100 से अधिक परिवार रहते हैं और उनमें ज्‍यादातर परिवार किसी न किसी प्रकार की दस्‍तकारी से जुड़े हैं। यहां के शिल्‍पी कपड़े, कागज और ताड़ के पत्‍तों पर अपने कुशल हाथों से जादू कर देते हैं। या छोटा सा गांव ओडिशा के पुरी जिले में स्थित है। इस गांव के चारों तरफ ताड़, आम, नारियल और गर्म जलवायु के अन्‍य पेड़ों के साथ-साथ पान के पत्‍तों का बाग भी है। लेकिन रघुराजपुर की अपनी पहचान है और वह ओडिशा की कला और शिल्‍प की समृद्ध परंपरा का प्रतिनिधित्‍व करता है।
रघुराजपुर पट्टचित्र के लिए प्रसिद्ध है। उडि़या भाषा में ”पट्ट” का मतलब कैनवास और ”चित्र” का मतलब तस्‍वीर है। इसे हाथ से बनी ”पट्टी” पर बनाया जाता है, जो कपड़ों की कई परतों को एक-दूसरे से चिपकाकर तैयार की जाती है। चित्रकारी के लिए कलाकार हाथ से बनाए हुए प्राकृतिक रंगों का इस्‍तेमाल करते हैं। ओडिशा में पट्टचित्र की बड़ी पुरानी परंपरा है। पट्टचित्र का विषय बहुधा पौराणिक और धार्मिक कहानियां होती हैं। कलाकार इन कहानियों को इस प्रकार तस्‍वीर में उतारता है कि उसे देखकर पूरी कहानी समझी जा सकती है। पट्टचित्रों में मूलरूप से भगवान श्री जगन्‍नाथ, बलभद्र और सुभद्रा के चित्र होते हैं। रघुराजपुर का हर घर एक नई कहानी कहता है। घरों की दीवारों पर चित्र बने होते हैं। अन्‍य शिल्‍पों में प्रस्‍तर कला, कागज से बने खिलौने, टसरचित्र, काष्‍ठ कला, ताड़ के पत्‍तों पर चित्रकारी भी शामिल हैं। इन्‍हें कलाकार तैयार करते हैं और यही गांव वालों की आजीविका का मुख्‍य साधन है। रघुराज पुर का हर परिवार किसी न किसी प्रकार की दस्‍तकारी से जुड़ा है। यहां तक कि सात-आठ साल की छोटी आयु के बच्‍चे भी पट्टचित्रकारी करते हैं। शिल्‍पी अपना उत्‍पाद विभिन्‍न गैर सरकारी संगठनों के जरिए बाजार में बेचते हैं। कई गैर सरकारी संगठन दस्‍तकारी उत्‍पादों के प्रोत्‍साहन, प्रशिक्षण और विपरण के काम में गांव की सहायता करते हैं। इस गांव के कलाकार ओडिशा और दूसरे राज्‍यों में आयोजित विभिन्‍न मेलों और प्रदर्शनियों में हिस्‍सा लेते हैं।

Pattachitra_Painting_odisha

Filed in: इतिहास, कला एवं संस्कृति, धर्म एवं संस्कृति, भारत, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख, हिन्दू धर्म Tags: , , , ,

You might like:

नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची
इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019
PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में
अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार 2019 अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार 2019
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.