प्रधानमंत्री ने बिहार के लिए 1.25 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की

PM Narendra Modi in biharप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के लिए सवा लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की है। आरा में एक विशाल रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के विकास के लिए केन्द्र सरकार प्रतिबद्ध है और इसके लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि सवा लाख करोड़ रुपये के पैकेज के अलावा राज्य में 40 हज़ार करोड़ रुपये की परियोजनाओं भी चल रही हैं। इस तरह बिहार को कुल एक लाख 65 हज़ार करोड़ रुपये मिलेंगे। बिहार सरकार को आड़े हाथों लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर बिहार बीमारु राज्य नहीं है तो बार बार उसके लिए मदद की मांग क्यों की जाती है।किसानों के हित को सर्वोपरि रखते हुए प्रधान मंत्री ने यह घोषणा की है कि कृषि मंत्रालय को अब कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के नाम से जाना जाएगा। यह निर्णय किसानों के हित को सर्वोपरि रखते हुए लिया गया एक महत्वपूर्ण निर्णय है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सवा लाख करोड़ रुपये का पैकेज

किसान कल्याण योजनाओं के लिए धनराशि =  3,094 करोड़ रुपये
शिक्षा योजनाओं के लिए धनराशि =  1,000 करोड़ रुपये
कौशल विकास के लिए धनराशि =  1,550  करोड़ रुपये
स्वास्थययोजनाओं के लिए धनराशि =  600  करोड़ रुपये
विद्युत योजनाओं के लिए धनराशि = 16,130  करोड़ रुपये
ग्रामीण सड़क योजनाओं के लिए धनराशि = 13,820  करोड़ रुपये
राजमार्ग योजनाओं के लिए धनराशि =  54,713  करोड़ रुपये
रेलवे योजनाओं के लिए धनराशि = 8,870  करोड़ रुपये
हवाई अड्डा के लिए धनराशि =  = 2,700  करोड़ रुपये
डिजिटल बिहार के लिए धनराशि = = 449  करोड़ रुपये
पेट्रोलियम और गैस के लिए धनराशि = 21,476  करोड़ रुपये
पर्यटन योजनाओं के लिए धनराशि = 600  करोड़ रुपये
कुल योजनाओं के लिए धनराशि = 1,25,003  करोड़ रुपये

Filed in: Year 2015, अगस्त 2015, भारत, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान Tags: ,

You might like:

अमेरिका ने भारत से कारोबारी वरीयता का GSP दर्जा छीना अमेरिका ने भारत से कारोबारी वरीयता का GSP दर्जा छीना
राजनाथ सिंह ने रक्षा मंत्री का पदभार ग्रहण किया राजनाथ सिंह ने रक्षा मंत्री का पदभार ग्रहण किया
सामान्य ज्ञान Quiz No. 233 सामान्य ज्ञान Quiz No. 233
इंडिया पोस्ट बना सबसे अधिक घाटे वाला सरकारी संस्थान इंडिया पोस्ट बना सबसे अधिक घाटे वाला सरकारी संस्थान
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.