सुप्रीम कोर्ट ने BCCI अध्यक्ष को हटाया

सुप्रीम कोर्ट ने अपने ऐतिहासिक फैसले में BCCI अध्यक्ष अनुराग ठाकुर को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से हटा दिया है.कोर्ट ने अजय शिर्के को भी सचिव के पद से हटा दिया है। कोर्ट ने अनुराग ठाकुर को अदालत की न्याय प्रक्रिया में बाधा डालने का दोषी पाया है।करीब डेढ़ साल से सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बाद यह फैसला आया है. शीर्ष अदालत ने कहा कहा कि बोर्ड से जुड़े वह सभी अधिकारी जिन्होंने जस्टिल लोढा पैनल की सिफारिशें पूरी तरह नहीं मानी हैं, उन्हें जाना होगा। कोर्ट के इस आदेश के बाद बोर्ड के 70 साल से अधिक के हो चुके पदाधिकारियों को पद छोड़ना पड़ेगा। पूरे मामले की सुनवाई करते आए चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर रिटायर होने से पहले इस पर फैसला सुनाया है।
पिछली सुनवाई में सर्वोच्च न्यायालय ने उन्हें चेतावनी देते हुए कहा था कि झुठी गवाही के लिए बोर्ड अध्यक्ष को सज़ा क्यों ना दी जाए. उन पर कोर्ट की अवमानना का केस चलाया जा सकता है अगर बिना शर्त माफ़ी ना मांगी तो उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है. जस्टिस लोढ़ा समेत तमाम लोगों ने इस फैसले का स्वागत किया है। अनुराग पर आरोप है कि उन्होंने कोर्ट से झूठ बोला और सुधार प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने की कोशिश की. शीर्ष अदालत ने इसके साथ ही ठाकुर के खिलाफ अवमानना की कार्यवाही शुरू करने का भी फैसला किया। लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को मानने से इन्कार करने वाले बीसीसीआई और राज्य संघों के सभी पदाधिकारियों को अपना पद छोड़ना होगाबीसीसीआई के सभी पदाधिकारियों और राज्य संघों को लोढ़ा समिति की सिफारिशों का पालन करने के लिये शपथपत्र देना होगा।

अध्यक्ष का काम बीसीसीआई का सबसे वरिष्ठ उपाध्यक्ष और सचिव का काम संयुक्त सचिव संभालेगा : उच्चतम न्यायालय मुख्य न्यायाधीश टी एस ठाकुर की अगुवाई वाली पीठ ने कहा कि बीसीसीआई के कामकाज को प्रशासकों की एक समिति देखेगी और उसने वरिष्ठ अधिवक्ता फाली एस नरिमन और इस मामले में न्यायमित्र के रूप में सहायता कर रहे गोपाल सुब्रहमण्यम से प्रशासकों की समिति में ईमानदार व्यक्तियों को सदस्यों के रूप में नामित करने में अदालत की मदद करने का आग्रह किया।

बहरहाल बीसीसीआई में पारदर्शिता लागू करने की प्रक्रिया में ये एक बड़ा फैसला है और आने वाले कुछ दिन देश में में क्रिकेट के प्राशनिक ढांचे को एक नई तस्वीर देने में अहम साबित हो सकते हैं।उच्चतम न्यायालय अब 19 जनवरी को इस मामले में सुनवाई करेगा।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद अनुराग ठाकुर का कहना है कि वो इस फैसले का स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि अगर सुप्रीम कोर्ट को लगता है कि बीसीसीआई सेवानिवृत्त जजों की देखरेख में बेहतर काम करेगा तो उनकी शुभकामनाएं उनके साथ हैं।

Filed in: Year 2017, जनवरी 2017, फ़ोटो से जाने, सम-सामयिकी Tags: , , , ,

You might like:

हॉकी खिलाडी बलबीर सिंह का निधन हॉकी खिलाडी बलबीर सिंह का निधन
राजीव गांधी किसान न्याय योजना राजीव गांधी किसान न्याय योजना
इराक के नए प्रधानमंत्री बने मुस्तफा अल- काधेमी इराक के नए प्रधानमंत्री बने मुस्तफा अल- काधेमी
6 to 10 May 2020 Current Affairs in Hindi 6 to 10 May 2020 Current Affairs in Hindi
© 2020 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.