19वीं पशु गणना 2012 के आंकड़े जारी

Total Cattle India19वीं पशु गणना-2012: केंद्रीय कृषि मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने ‘19वीं पशु गणना-2012’ जारी की, जिसे कृषि मंत्रालय के पशुपालन, दुग्‍धशाला एवं मत्‍स्‍य पालन विभाग ने प्रकाशित किया है। कृषि एवं खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग राज्‍य मंत्री डॉ. संजीव कुमार बालियान भी इस मौके पर उपस्थित थे। 19वीं पशु गणना से पता चला है कि वर्ष 2007 में हुई गणना की तुलना में पशुओं की कुल आबादी 3.33 फीसदी घट गई है। हालांकि, कुछ राज्‍यों जैसे गुजरात (15.36 फीसदी), उत्‍तर प्रदेश (14.01 फीसदी), असम (10.77 फीसदी), पंजाब (9.57 फीसदी), बिहार (8.56 फीसदी), सिक्किम (7.96 फीसदी), मेघालय (7.41 फीसदी) और छत्‍तीसगढ़ (4.34 फीसदी) में पशुओं की कुल आबादी में बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

दुधारू पशुओं जैसे गायों और भैंसों की संख्‍या 111.09 मिलियन से बढ़कर 118.59 मिलियन हो गई है, जो 6.75 फीसदी की बढ़ोतरी दर्शाती है। मादा पशु (गाय) की कुल संख्‍या में पिछली पशु गणना (2007) के मुकाबले 6.52 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है तथा मादा पशुओं की कुल संख्‍या वर्ष 2012 में 122.9 मिलियन हो गई। इसी तरह मादा भैंसों की कुल संख्‍या भी पिछली पशु गणना की तुलना में 7.99 फीसदी बढ़ गई है और वर्ष 2012 में मादा भैंसों की कुल संख्‍या 92.5 मिलियन रही। मुर्गीपालन क्षेत्र ने भी पिछली पशु गणना के मुकाबले 12.39 फीसदी की अच्‍छी बढ़ोतरी दर्शायी है। वर्ष 2012 में देश भर में मुर्गे-मुर्गियों की कुल संख्‍या 729.2 मिलियन थी। देश में पशुओं की गणना वर्ष 1919 में शुरू हुई थी और उसके बाद से ही हर पांच साल में यह कवायद की जाती है। नीति बनाने में इन आंकड़ों का इस्‍तेमाल किया जाता है और नियोजन एवं अनुसंधान कार्यों में भी इस‍की व्‍यापक उपयोगिता है। 19वीं पशु गणना वर्ष 2012 में की गई थी, जिसमें सभी राज्‍यों एवं केंद्र शासित क्षेत्रों ने हिस्‍सा लिया था। इस गणना में देश भर के सभी गांवों और शहरों/वार्डों को कवर किया गया था।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें:
19वीं पशु गणना-2012 मुख्य बिन्दु हिंदी में
19th Livestock Census, 2012  (English)

Filed in: Year 2014, भारत, भूगोल, वन्य-जीव सम्पदा, सम-सामयिकी, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख, सितम्बर महीना Tags: , , , ,

You might like:

नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची
इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019
PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में
रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.