4th पूर्वोत्तर युवा महोत्सव असम के माजुली में

चौथा पूर्वोत्तर युवा महोत्सव असम के माजुली में शुरू हो गया है। महोत्सव युवा मामले और खेल मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से नेहरू युवा केन्द्र संगठन (एनवाईकेएस) द्वारा आयोजित किया जा रहा है। महोत्सव का उद्धाटन आज केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री श्री अनंत कुमार ने किया।  इस अवसर पर केद्रीय युवा मामले और खेल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री सर्बानंद सोनोवाल, संस्कृति, पर्यटन और नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  डॉ महेश शर्मा भी उपस्थित थे। सम्मानित अतिथि के रूप में असम सरकार के परिवहन, उत्पाद शुल्क, खेल एवं युवा मामलों के मंत्री श्री अजित सिंह के साथ असम के प्रमुख सांसद भी उद्घाटन समारोह में उपस्थित थे। आठ पूर्वोत्तर राज्य, एनवाईकेएस स्वयंसेवकों से दल के साथ,  खाद्य महोत्सव के लिए प्रतिनिधि और युवा कीर्ति तथा सांस्कृतिक दल एवं पड़ोसी जिलों के युवा प्रतिनिधि और लगभग 2100 प्रतिनिधि इस तीन दिवसीय महोत्सव में भाग ले रहे हैं।
पूर्वोत्तर युवा महोत्सव के मुख्य घटक हैं: –
(अ) प्रतियोगी गतिविधियाँ जैसे लोक नृत्य,  लोक गीत,  एक नाटक,  वाद्य गिटार और रॉक बैंड प्रतियोगिता।
(ब) गैर प्रतियोगी गतिविधियां जैसे- सांस्कृतिक,  संगीत और मार्शल आर्ट शो
(स) खाद्य महोत्सव और युवा कृति (अखिल भारतीय स्वाद) और
(घ) युवाओं से संबंधित मुद्दों पर सेमिनार।
पूर्वोत्तर युवा महोत्सव का आयोजन राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देने और विभिन्न जनजातियों और पूर्वोत्तर राज्यों के लोगों की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को बढ़ावा देने के अलावा संस्कृति के आदान-प्रदान के माध्यम से एक दूसरे को जानने के उद्देश्य से युवा मामले और खेल मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा किया जाता है। एक भव्य उत्सव है जहां उत्तर-पूर्व की समृद्ध सांस्कृतिक परंपराओं और रंगों को प्रर्दशित किया जाता है।

Filed in: Year 2015, धर्म एवं संस्कृति, भारत, मई 2015, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान Tags: ,

You might like:

इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019
अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार 2019 अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार 2019
प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र के जलवायु परिवर्तन सम्मेलन में भाग लिया प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र के जलवायु परिवर्तन सम्मेलन में भाग लिया
15वें वित्त आयोग का कार्यकाल 30 नवम्बर, 2019 तक बढ़ा 15वें वित्त आयोग का कार्यकाल 30 नवम्बर, 2019 तक बढ़ा
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.