भारतीय वायु सेना के मार्शल अर्जन सिंह का निधन

arjan-singh-marshal-of-indian-air-force-diesभारतीय वायु सेना (IAF) के मार्शल और 5 स्टार रैंक प्राप्त अर्जन सिंह का 16 सितम्बर 2017 को दिल का दौरा पड़ने के कारण निधन हो गया। 98 वर्षीय अर्जन गंभीर रूप से बीमार थे। भारतीय सेना के लिए मिसाल माने जाने वाले सिंह ने 1965 में सबसे युवा वायु सेना प्रमुख के रूप में जिम्मेदारी संभाली थी। उस समय उनकी आयु महज 44 वर्ष थी। पाकिस्तान के साथ 1965 की लड़ाई में उन्होंने वायु सेना की अगुआई की और दुश्मन के छक्के छुड़ा दिए। पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध में उनकी भूमिका के बाद वायु सेना प्रमुख के रैंक को बढ़ाकर पहली बार एयर चीफ मार्शल किया गया। इससे पहले तक वायु सेना प्रमुख को चीफ ऑफ़ द एयर फोर्स स्टाफ कहा जाता था। उन्हें नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया।
सेवानिवृत्ति के बाद उन्हें स्विटजरलैंड का राजदूत बनाया गया। इसके अलावा उन्होंने कीनिया के भी राजदूत के रूप में अपनी सेवाएं दीं। उन्होंने 1989-90 के बीच दिल्ली के उपराज्यपाल का पद भी संभाला। उनकी सेवाओं के लिए सरकार ने साल 2002 में उन्हें मार्शल आफ इंडियन एयरफोर्स की पदवी से नवाजा। यह उपलब्धि पाने वाले वह वायु सेना के एकमात्र अधिकारी हैं। मार्शल ऑफ एयर फोर्स, अर्जन सिंह के सम्मान में पश्चिम बंगाल के पानागढ़ एयरबेस को ‘अर्जन सिंह एयरबेस’ नाम दिया गया है।
मार्शल अर्जन सिंह का जन्म 15 अप्रैल, 1919 को अविभाजित भारत में फैसलाबाद स्थित लायलपुर में एक सैन्य परिवार में हुआ था। वो 19 वर्ष की उम्र में ही पायलट ट्रेनिंग कोर्स के लिए चुने गए थे। 1944 में उन्होंने अराकन अभियान और इम्फाल अभियान में स्क्वाड्रन लीडर के तौर पर अपने स्क्वाड्रन का नेतृत्व किया। उनके कुशल नेतृत्व के लिए उन्हें विशिष्ट फ्लाइंग क्रॉस यानि डीएफसी से सम्मानित किया गया। मार्शल अर्जन सिंह हमेशा अजेय रहे। किसान-पुत्र होने के कारण उनको देश की मिट्टी से अथाह प्रेम था। उन्होंने अपनी मेहनत, कर्तव्य परायणता और देश भक्ति के जज़्बे से भारतीय वायु सेना को सफलता के शिखर पर पहुंचाया। भारतीय सेनाओं के ग्रैंड-ओल्ड मैन कहे जाने वाले अर्जन सिंह अब हमारे बीच भले ही नहीं हैं, लेकिन देश के करोड़ों नौजवानों के लिए वो हमेशा प्रेरणास्रोत बने रहेंगे।

Filed in: Year 2017, प्रसिद्ध व्यक्ति, फ़ोटो से जाने, भारत, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख, सितम्बर 2017, हमारा भारत Tags: , , , , , ,

You might like:

नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची
इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019
PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में
रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.