चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण 22 जुलाई 2019 को – ISRO

Chandrayan-2चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण अब नई तारीख 22 जुलाई को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर किया जायेगा। 15 जुलाई को तकनीकी खामी की वजह से रद्द करना पड़ा था प्रक्षेपण। इसरो अब चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को दोपहर 2:43 बजे लॉन्च करेगा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान, इसरो ने इसकी जानकारी दी। चंद्रयान-2 को जीएसएलवी मैक-3 द्वारा प्रक्षेपित किया जाएगा । 15 जुलाई को चंद्रयान-2 को तड़के सुबह 2 बजकर 51 मिनट पर देश के सबसे ताकतवर रॉकेट जीएसएलवी-एमके3 से लॉन्च किया जाना था लेकिन 56.24 मिनट पहले ही काउंट डाउन रोक दिया गया। पहले चंद्रयान-2 चांद पर 6 सितंबर को पहुंचने वाला था लेकिन 22 जुलाई को लॉन्चिंग होने पर ये 10 या 11 सितंबर को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचेगा। ये चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा जहां वह इसके अनछुए पहलुओं को जानने का प्रयास करेगा।
चंद्र अभियान के तीनों मॉड्यूल- ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान)- प्रक्षेपित किए जाएंगे। लैंडर चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा। चंद्रमा के इस क्षेत्र में अब तक कोई नहीं पहुंचा है। साल 2008 इसरो ने पहले सफल चंद्रमा मिशन – चंद्रयान-1 का प्रक्षेपण किया था 2009 तक काम करता रहा था।

Filed in: फ़ोटो से जाने, भारत, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, हमारा भारत Tags: , , , ,

You might like:

जम्‍मू-कश्‍मीर से धारा 370 खत्‍म जम्‍मू-कश्‍मीर से धारा 370 खत्‍म
रवीश कुमार को रैमॉन मैगसेसे 2019 पुरस्कार रवीश कुमार को रैमॉन मैगसेसे 2019 पुरस्कार
जर्मनी की उरसुला वोन डेर लेयेन चुनी गई यूरोपीय आयोग की पहली महिला अध्यक्ष जर्मनी की उरसुला वोन डेर लेयेन चुनी गई यूरोपीय आयोग की पहली महिला अध्यक्ष
15वें वित्त आयोग का कार्यकाल 30 नवम्बर, 2019 तक बढ़ा 15वें वित्त आयोग का कार्यकाल 30 नवम्बर, 2019 तक बढ़ा
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.