शांति नोबेल पुरस्कार 2017 ICAN को

ICAN is Nobel Peace Prize 2017 WinnerICAN को शांति नोबेल पुरस्कार 2017: दुनिया भर में परमाणु हथियारों को खत्म करने के लिए अभियान चलाने वाले संगठन आई.सी.ए.एन. (International Campaign to Abolish Nuclear Weapons – ICAN) को वर्ष 2017 का नोबेल शांति पुरस्कार दिया गया है। आईसीएएन दुनिया भर के नागरिक समाज का एक संगठन है जो परमाणु हथियारों पर पूरी तरह से रोक लगाने की संधि और उस पर अमल के लिए अभियान चला रहा है। इस अभियान की वजह से ही यह संधि भी हो सकी है। आईसीएएन 2007 में शुरू किया गया और इस वक्त इस संगठन के 468 सहयोगी संस्थाएं हैं जो 101 देशों में फैली हैं। इसकी शुरुआत ऑस्ट्रेलिया से हुई थी। इसी साल जुलाई में 122 देशों ने संयुक्त राष्ट्र की परमाणु हथियारों पर रोक लगाने वाली संधि को स्वीकार किया था। हालांकि परमाणु हथियारों वाले बड़े देश अमेरिका, रूस, चीन, ब्रिटेन और फ्रांस इस बातचीत से बाहर रहे।
‘इंटरनेशनल कैम्पेन टू अबोलिश न्यूक्लियर वेपन्स’ यानी ICAN सौ से ज़्यादा देशों में काम करने वाली गैर-सरकारी संस्थाओं का समूह है। इसकी शुरुआत ऑस्ट्रेलिया में हुई थी। 30 अप्रैल, 2007 को विएना में औपचारिक तौर पर इसे लॉन्च किया गया। स्विट्ज़रलैंड के जिनेवा में इसका मुख्यालय हैं। शांति का नोबेल पुरस्कार किसी ऐसे व्यक्ति अथवा संस्था को दिया जाता है जो दो देशों के मध्य सद्भाव को बढ़ावा देने के साथ-साथ समाज की बेहतरी के लिये काम करते है। भारत में अभी तक केवल मदर टेरेसा और कैलाश सत्यार्थी को शांति के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। उल्लेखनीय है कि शांति के नोबेल पुरस्कार को ओस्लो में प्रदान किया जाता है, जबकि अन्य पुरस्कारों को स्टॉकहोम में दिया जाता हैं। विदित हो कि नोबेल पुरस्कार मरणोपरांत प्रदान नहीं किये जाते हैं।

Filed in: Year 2017, अक्टूबर 2017, फ़ोटो से जाने, विश्व, विश्व-सार, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख Tags: , , , , , , ,

You might like:

2023 क्रिकेट विश्व कप भारत में 2023 क्रिकेट विश्व कप भारत में
भारत ट्रेकोमा रोग मुक्त घोषित भारत ट्रेकोमा रोग मुक्त घोषित
राहुल गांधी बने कांग्रेस के नए अध्यक्ष राहुल गांधी बने कांग्रेस के नए अध्यक्ष
PAN को आधार से जोड़ने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2018 PAN को आधार से जोड़ने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2018
© 2017 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.