भारत बना MTCR का 35वां सदस्य

India becomes 35th member of MTCRभारत आज मिसाइल टेक्‍नोलॉजी कंट्रोल रिजीम (MTCR) यानि प्रेक्षपात्र प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्‍यवस्‍था का पूर्ण सदस्‍य बन गया है। इसका सदस्‍य बनने से भारत उच्‍च मिसाइल प्रौद्योगिकी हासिल करने और रूस के साथ संयुक्‍त उपक्रम करने के योग्‍य हो है। मिसाइल टेक्‍नोलॉजी कंट्रोल रिजीम का उद्देश्‍य मिसाइल, सम्‍पूर्ण रॉकेट प्रणाली, मानव रहित हवाई यान तथा पांच सौ किलोग्राम भार को कम से कम तीन सौ किलोमीटर तक ले जानी वाली तकनीक तथा जनसंहार के हथियारों की आपूर्ति के प्रसार को रोकना है। विदेश सचिव एस. जयशंकर ने आज नई दिल्ली में एमटीसीआर अध्यक्ष समूह फ्रांस, नीदरलैंड और लक्ज़मबर्ग की उपस्थिति में प्रवेश संबंधी दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए।
विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘भारत सुबह एमटीसीआर में शामिल हो गया..इस समूह के 35वें सदस्य के रूप में भारत का प्रवेश अंतरराष्ट्रीय अप्रसार के लक्ष्यों को आगे बढ़ाने में परस्पर लाभकारी होगा।’ बयान में कहा गया, ‘भारत अपनी सदस्यता का समर्थन करने वाले एमटीसीआर के 34 सदस्यों में से प्रत्येक का शुक्रिया अदा करना चाहेगा। हम एमटीसीआर के सहअध्यक्षों- नीदरलैंड के राजदूत पीटर डी क्लेर्क और लग्जमबर्ग के रॉबर्ट स्टीनमेट्ज का भी शुक्रिया अदा करना चाहेंगे।’ आगे बयान में कहा गया है कि पेरिस में एमटीसीआर के ‘प्वाइंट ऑफ कॉन्टैक्ट’ ने इस समूह में भारत को शामिल किए जाने से जुड़े निर्णय की जानकारी नयी दिल्ली स्थित फ्रांसीसी दूतावास, नीदरलैंड और लग्जमबर्ग के दूतावासों के माध्यम से पहुंचाई।

Filed in: Year 2016, जून 2016, भारत, विश्व, व्यापार, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख Tags: , , ,

You might like:

नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची
इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019
PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में
रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.