शंख घोष को ज्ञानपीठ पुरस्कार 2016

shankha ghosh gyanpeeth award 2016ज्ञानपीठ पुरस्कार वर्ष 2016 में आधुनिक बांग्ला साहित्य के लब्ध प्रतिष्ठित बांग्ला कवि शंख घोष को दिया जायेगा। देश के सबसे प्रतिष्ठित साहित्यिक सम्मान के रूप में विख्यात ज्ञानपीठ पुरस्कार का वर्ष 2016 का सम्मान सुप्रसिद्ध बांग्ला साहित्यकार शंखा घोष को प्रदान किया जायेगा। यह घोषणा ज्ञानपीठ बोर्ड ने नई दिल्ली में 23 दिसम्बर 2016 को की। 84-वर्षीय शंखा घोष को आधुनिक बांग्ला साहित्य के पुरोधाओं में से एक माना जाता है तथा उन्हें रबीन्द्रनाथ टैगोर के साहित्य पर एक प्रमुख ज्ञाता माना जाता है। पुरस्कार के रूप में शंख घोष को वाग्देवी की प्रतिमा, 11 लाख रुपये और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जायेगा।
इससे पहले 1996 में बांग्ला लेखिका महाश्वेता देवी को ज्ञानपीठ पुरस्कार प्रदान किया गया था. इस लिहाज से वह 19 साल बाद देश का सर्वोच्च साहित्य सम्मान पाने वाले बांग्ला लेखक हैं। घोष की प्रमुख रचनाओं में आदिम लता-गुलमोमॉय, मूखरे बारो, सामाजिक नोय, बाबोरेर प्रार्थना, दिनगुली रातगुली और निहिता पातालछाया शामिल हैं. उनका जन्म 1932 में हुआ था और उन्हें कवि, आलोचक और विद्वान के तौर पर जाना जाता है। घोष को साहित्य अकादेमी पुरस्कार, सरस्वती सम्मान, रबीन्द्र पुरस्कार जैसे महत्वपूर्ण पुरस्कारों से नवाजा गया है। इससे पहले बांग्ला लेखकों ताराशंकर, विष्णु डे, सुभाष मुखोपाध्याय, आशापूर्णा देवी और महाश्वेता देवी को ज्ञानपीठ पुरस्कार मिल चुका है। पहला ज्ञानपीठ पुरस्कार वर्ष 1965 में मलयालम लेखक जी शंकर कुरूप को प्रदान किया गया था और पिछली दफा वर्ष 2015 के ज्ञानपीठ पुरस्कार से गुजराती लेखक रघुवीर चौधरी को नवाजा गया था।

Filed in: Year 2016, कला एवं संस्कृति, कवितायेँ, दिसंबर 2016, प्रसिद्ध व्यक्ति, फ़ोटो से जाने, भारत, लेखक एवं कवि, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख, हमारा भारत, हिंदी भाषा, हिंदी भाषा ज्ञान Tags: , , , , , , ,

You might like:

नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची नोबेल पुरस्कार विजेता 2019 सूची
इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 इथियोपिया के प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार 2019
PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में PM मोदी मिले चीनी राष्ट्रपति से महाबलीपुरम में
रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता रसायनशास्त्र नोबेल पुरस्कार 2019 विजेता
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.