ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में भारत 108 वें स्थान पर

world gender gap index 2017 INDIA 108वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम(WEF) के ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में भारत 21 पायदान फिसलकर 108वीं पर रह गया है। अर्थव्यवस्था में महिलाओं की कम भागीदारी और मामूली वेतन के चलते भारत रैंकिंग में चीन और बांग्लादेश से भी पिछड़ गया है। WEF की ग्लोबल जेंडर गैप रिपोर्ट 2017 के मुताबिक भारत ने महिला और पुरुषों के मामले में 67 फीसदी अंतर पाटने में सफलता हासिल की है। लेकिन यह सफलता चीन और बांग्लादेश से भी फीकी है। इस इंडेक्स में बांग्लादेश 47वें और चीन 100वें स्थान पर रहा।
यह इंडेक्स 2006 में ही शुरूकिया गया था।इंडेक्स की शुरुआत से पहली बार पूरी दुनिया में जेंडर गैप के मामले में हालात सुधरने के बजाय बिगड़ी है। खासकर स्वास्थ्य, शिक्षा, कार्यस्थल और राजनीति इन चारों क्षेत्रों में महिला व पुरुषों के बीच खाई और चौड़ी हुई है। आइसलैंड पिछले 9 सालों में विश्‍व का सबसे बड़ा जेंडर इक्‍वल देश बन गया है। इंडेक्‍स के अन्‍य टॉप 10 देशों में नॉर्वे दूसरे स्‍थान पर, फिनलैंड तीसरे, रवांडा चौथे, स्‍वीडन पांचवें, निकारागुआ छठे, स्‍लोवेनिया सातवें, आयरलैंड आठवें, न्‍यूजीलैंड नौवें और फिलीपीन्‍स 10वें स्‍थान पर हैं।

Filed in: Year 2017, नवंबर 2017, फ़ोटो से जाने, भारत, विश्व, विश्व-सार, व्यापार, शिक्षा एवं स्वास्थ्य, सम-सामयिकी, समाचार, सामान्य ज्ञान, सामान्य ज्ञान लेख, हमारा भारत Tags: , , , , , , , , ,

You might like:

मनु भाकर ने ISSF विश्व कप में स्वर्ण जीता मनु भाकर ने ISSF विश्व कप में स्वर्ण जीता
महिंदा राजपक्षे होंगे श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे होंगे श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री
अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी सहित 3 लोगों को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी सहित 3 लोगों को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार
चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार 2019, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार 2019, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से
© 2019 सामान्य ज्ञान. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by eShala.org.